बिना नाम का फोल्डर बनायें और कारण भी जानें [How To Create A Folder Without Name And find out the reason]

कंप्‍यूटर में नया फोल्डर या फाइल बनाने के साथ उसको नाम भी देना पडता है, ताकि उसमें जब किसी फाइल को रखा जाये तो आसानी से खोजा सके, लेकिन एक तरीका ऐसा भ्‍ाी है जिससे बिना नाम का फोल्डर या फाइल बनाई जा सकती है, ऐसा बहुत से लोग करते भी हैं, लेकिन क्‍या वाकई में इस कंप्‍यूटर बिना नाम का फोल्डर या फाइल बनाता है या यह हमारा भ्रम है आइये जानते हैं –

बिना नाम का फोल्डर बनायें और कारण भी जानें [How To Create A Folder Without Name And find out the reason]

यह भी पढें – बेहतरीन फोल्डर टिप्‍स और ट्रिक्‍स

किसी फाइल या फाेल्‍डर को बिना नाम के बनाना-

फोल्‍डर बनाने के लिये उसे कोई ना कोई नाम देना पडता ही है, लेकिन एक ट्रिक है जिससे आप बिना नाम का फोल्‍डर बनाकर अपने दोस्‍तों को चकित कर कर सकते हो,

  • इसके लिये डेस्‍कटॉप पर किसी जगह पर राइट क्लिक कीजिये 
  • नया फोल्डर या फाइल बनाईये या आप पहले से बने किसी फोल्‍डर पर भी यह प्रयोग कर सकते हैं। 
  • माउस से राइट क्लिक कीजिये। 
  • अब रिनेम कीजिये। 
  • नाम टाइप करने के बजाये की-बोर्ड से Alt+ 160 या Alt + 255 दबाइये और एन्‍टर कीजिये। 
  • अगर आप लैपटॉप इस्‍तेमाल कर रहे हैं और उसमें न्‍यूमैरिक की-पैड नहीं है तो अलग से की-बोर्ड लगा लें।
  • तैयार है आपका बिना नाम फोल्‍डर और फाइल 

जानें यह ट्रिक काम कैसे करती है ?

यदि आप हिन्दी टाईपिंग जानते हैं तो आपको एक बात जरूर मालूम होगी और वह यह कि हमको हिन्दी टाईपिंग करते समय बहुत सारे ऐसे अक्षरों या चिन्हों की आवश्यकता पड़ती है जो साधारणत्यः Alphabetical keys से प्राप्त नहीं किए जा सकते। उसके लिये शार्टकट की का प्रयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए हिन्दी टाईप करते समय यदि आपको एक Small
Bracket 
लाना होता है तो आपको Alt
key 
 के साथ में 188 और Alt
key 
 के साथ 189 को दबाना होगा। उसी तरह से आप एमएस वर्ड या कोई अन्‍य टैस्‍क्‍ट एडीटर खोलें और उसमें इंग्‍िलश फाण्‍ट सेटकर लें और अब अपने की बोर्ड से Alt key  के साथ 255 को दबाएँ तो क्या होता है? यहाँ पर कोई कैरेक्टर बनने के बजाए एक ऐसा अक्षर बनता है जो की एक खाली स्‍पेस की तरह होता है और जब वही खाली स्‍पेस जैसा अक्षर आप आप किसी फाइल के रीनेम करते वक्त दबाते हैं तो वह फाइल या फोल्‍डर बिना नाम का दिखता है पर ऐसा होता नहीं हैं। यहाँ पर एक बात को ध्यान में रखिए की जो स्‍पेशल कैरेक्टर Alt+255 से बनता है वह वास्तव में एक ब्‍लैंक स्‍पेस नहीं होता बल्कि उस की तरह दिखता है। यदि ऐसा होता तो आपका कंप्‍यूटर फाइल को रीनेम करते वक्त स्‍पेस-की को दबाते से ही बिना नाम का फोल्डर पाता। मगर ऐसा नहीं है। असल उसका भी एक नाम होता है भले ही हम उसे ना पढ पायें।

यह गेस्‍ट पोस्‍ट हमें जीशान अली जी ने भेजी है, अगर आप भी इसी तरह की तकनीकी जानकारी रखते हैं आप चाहते हैं कि आपका लेख माय बिग गाइड पर प्रकाशित हो तो हमें आप हमें guest@mybigguide.com गेस्‍ट पोस्‍ट भेज सकते हैं। अधिक जानकारी के लिये देखें – आप भी बनें गेस्ट ब्लॉगर : करें गेस्‍ट पोस्‍ट

Spread the love

Leave a Reply