असेम्बलर या असेम्बली भाषा क्या होती है – What is the Assembler or the Assembly Language

मशीनी भाषा के बारे में तो आप जान ही चुके हैं, और आज हम बात करने वाले हैं असेम्बली भाषा (assembly language) या असेम्बलर भाषा (assembler) के बारे में, दरअसल असेम्बली भाषा (Assembly Language ) मशीनी भाषा के बाद पहली प्रोग्रामिंग भाषा थी, जिसका निर्माण मशीनी भाषा द्वारा प्रोग्राम तैयार करने मे आने वाली कठिनाईयो को दूर करने के लिये किया गया था तो आईये जानते हैं असेम्बली भाषा (assembly language) क्या होती है

असेम्बलर या असेम्बली भाषा क्या होती है - What is the Assembler or the Assembly Language

असेम्बलर या असेम्बली भाषा क्या होती है What is the Assembler or the Assembly Language in Hindi

क्या होती है असेंबली लैंग्वेज Assembly Language

असेम्बली भाषा (Assembly Language) एक निम्न स्तरीय भाषा (Low Level Language) है, असेंबली लैंग्वेज प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की सेंकेंड जेनरेशन है, असेम्बली भाषा (assembly language) को कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा के विकास का पहला कदम माना जाता है, चूंकि मशीनी भाषा बायनरी कोड में लिखी जाती है जिसके केवल दो अंक होते हैं 0 और 1 लेकिन बाइनरी कोड संकेत समझना और उसमें प्रोग्राम लिखना हमारे लिये संभव नहीं हैं इसलिये मनुष्‍य ने अपना काम आसान करने के लिये असेम्बली भाषा (Assembly Language) का निर्माण किया जिसमें बाइनरी संकेत अर्थात 0 और 1 के स्‍थान पर ऐसे अन्य शब्‍दों और अंकों का प्रयोग किया जाता है जिसे नेमोनिक कोड (Mnemonic code) कहते हैं, जिसके कारण प्रोग्राम को लिखना आसान हो गया, असेम्बली भाषा (Assembly Language) एक ऐसी कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा हैं जिसमे अंकीय संकेतो के स्थान पर अक्षर अथवा चिन्हो का प्रयोग किया जाता है, इस कारण असेम्बली भाषा symbol language भी कहलाती है
नेमोनिक कोड और आकडो हेतु उपयुक्त नाम के प्रयोग के कारण इस प्रोग्रामिंग भाषा को अपेक्षाकृत अधिक सरलता से समझा जा सकता है। इससे प्रोग्रामिंग भाषा मे कम समय लगता है और साथ ही इसमे गलतियो को सरलता से ढूंढकर दूर किया जा सकता है जो कि मशीनी भाषा ( Machine language ) में संभव नहीं था 
लेकिन कंप्‍यूटर असेम्बली भाषा (Assembly Language) में लिखे प्रोग्राम को नहीं समझता है कम्प्यूटर मात्र बाइनरी संकेत अर्थात 0 और 1 यानि मशीनी भाषा को ही समझता है इसलिये असेम्बली भाषा (Assembly Language) में लिखे प्राेग्राम में लिखे प्रोग्राम को मशीनी भाषा ( Machine language ) में Translate किया जाता है और इस काम करता है प्रोग्रामिंग भाषा अनुवादक ( Programming Language Translator ) अब जो भाषा अनुवादक ( Language Translator ) असेम्बली भाषा (Assembly Language) को मशीनी भाषा ( Machine language ) मेंं Translate करतेे हैं वह असेम्बलर (Assembler) कहलाते हैं

Spread the love

Abhimanyu Bhardwaj

मैं अभिमन्यु भारद्वाज अपने ब्लॉग और यूट्यूब चैनल My Big Guide (2M+ Subscriber) के माध्यम से पिछले 10 वर्षों से भी ज्यादा समय से डिजिटल रूप से हिंदी भाषा में कंप्यूटर शिक्षा का प्रचार प्रसार कर रहा हूॅ

Leave a Reply