बाइनरी नंबर सिस्टम-द्वयाधारी संख्या पद्धति क्या है? What is Binary Number System in Hindi

बाइनरी नंबर (Binary Number) या द्वयाधारी संख्या का प्रयोग मशीनी भाषा ( Machine language ) में प्रोग्राम लिखने के लिये होता है मशीनी भाषा बायनरी कोड में लिखी जाती है जिसके केवल दो अंक होते हैं 0 और 1 चूंकि कम्प्यूटर मात्र बाइनरी संकेत अर्थात 0 और 1 को ही समझता है और कंप्‍यूटर का सर्किट यानी परिपथ इन बायनरी कोड को पहचान लेता है और इसे विधुत संकेतो ( Electrical signals ) मे परिवर्तित कर लेता है इसमें 0 का मतलब Off है और 1 का मतलब ON तो आईये जानते हैं बाइनरी नंबर सिस्टम-द्वयाधारी संख्या पद्धति क्या है? What is Binary Number System in Hindi
Binary Number System, बाइनरी नंबर सिस्टम, द्वयाधारी संख्या पद्धति

बाइनरी नंबर सिस्टम-द्वयाधारी संख्या पद्धति क्या है? What is Binary Number System in Hindi

बाइनरी नंबर सिस्टम (Binary Number System) में केवल 2 ही संख्‍यायें होती हैं 0 और 1 और यह स्थानिय मान पद्धति (Place-Value Notation) पर काम करती है, जिसमें 0 का मतलब low या Off है और 1 का मतलब High या On, जिस प्रकार स्थानिय मान पद्धति (Place-Value Notation) निकालने के लिये संख्या में उस अंक का स्थान कहाँ है यह देखा जाता है जैसे 25 में 22 का स्‍थानीय मान 20 होता उसी प्रकार बाइनरी नंबर सिस्टम (Binary Number System) में संख्या का मान निकालने का आधार 2 लिया जाता है।

उदाहरण के लिये 10012 एक बायनरी नंबर है और इसके पीछे लिखा 2 का अंक इस बायनरी का बेस है, जिस प्रकार डेसीमल नंबर सिस्टम में संख्याओं को लिखने के लिए 0-9 तक के अंकों का प्रयोग होता है और इसका बेस 10 हाेता है, उसी प्रकार बायनरी नंंबरों को लिखने के लिये केवल 0 और 1 का प्रयाेग होता है और इसका बेस 2 होता है – 

ये रही डेसीमल संख्‍याओं के समकक्ष बायनरी संख्‍यायें – 
  • 0 0
  • 1 1
  • 2 10
  • 3 11
  • 4 100
  • 5 101
  • 6 110
  • 7 111
  • 8 1000
  • 9 1001
आपने देखा 3 का बायनरी 11 है जबकि 4 का बायनरी 100 है तो ये कैसे तो आईये जानते हैं डेसीमल संख्‍आयों को बायनरी में कन्वर्ट कैसे करते हैं –

Decimal to Binary Conversion – Dibble Dabble in Hindi

बायनरी में कन्वर्ट करने का सबसे आसान तरीका है इस तरीके को Dibble Dabble कहते हैं यह परीक्षा में आपको अंक दिला सकता है बहुत आसान है आपको किसी भी डेसीमल नंबर को अगर बायनरी में बदलना है तो उसको दो से भाग देते जाईये और डेसीमल नंबर सम अंक होगा तो बाइनरी शेष 0 होगा एवं जब विषम अंक होगा तो शेष 1 होगा इसे उस संख्‍या के सामने लिखते जाईये

मान लीजिये हमें 9 का बाइनरी निकालना है तो हम कुछ इस तरह लिखेगें 
  • 9/2 = 4 शेष (Remainder) 1
  • 4/2 = 2 शेष (Remainder) 0
  • 2/2 = 1 शेष (Remainder) 0
  • 1/2 = 0 शेष (Remainder) 1  
अब यहां जो 0 या 1 शेष बचते हैं उन्‍हें उल्‍टे क्रम में पढा जाता है यानि नीचे से ऊपर की ओर तो 9 का बायनरी हुआ 1001 
अब 4 का बाइनरी निकालना है तो हम कुछ इस तरह लिखेगें – 
  • 4/2 = 2 शेष (Remainder) 0
  • 2/2 = 1 शेष (Remainder) 0
  • 1/2 = 0 शेष (Remainder) 1  
तो क्‍या आया 100 लेकिन 3 में केवल 11 ही आयेगा देखिये 
  • 3/2 = 1 शेष (Remainder) 1
  • 1/2 = 0 शेष (Remainder) 1 
इसी प्रकार आप किसी भी डेसीमल नंबर का बायनरी निकाल सकते हैं 

Spread the love

Abhimanyu Bhardwaj

मैं अभिमन्यु भारद्वाज अपने ब्लॉग और यूट्यूब चैनल My Big Guide (2M+ Subscriber) के माध्यम से पिछले 10 वर्षों से भी ज्यादा समय से डिजिटल रूप से हिंदी भाषा में कंप्यूटर शिक्षा का प्रचार प्रसार कर रहा हूॅ

Leave a Reply