यूजर इंटरफ़ेस (UI) क्या है – what is User interface in Hindi

यूजर इंटरफ़ेस (User interface ) क्या है या UI क्‍या है शब्‍द आपने कई बार सुना होगा अक्‍सर जब आप किसी मोबाइल को खरीदने जाते हैं तो यूट्यूूूब पर या इंटरनेट पर कहीं रिव्‍यू पढते होगें तो क्‍या होता है UI यानि यूयूजर इंटरफेस अर्थ और कैसे ये आपके बहुत काम आता है आईये जानने की कोशिश करते हैं यूजर इंटरफ़ेस (UI) क्या है – what is User interface in Hindi

यूजर इंटरफ़ेस (UI) क्या है - what is User interface in Hindi

यूजर इंटरफ़ेस (UI) क्या है – What is User Interface in Hindi

जब आप किसी मशीन को चलाते हैं तो आपने गौर से देखा होगा चाहे कंप्यूटर हो चाहे मोबाइल फोन हो या आपके घर की वॉशिंग मशीन या माइक्रोवेव ओवन हो वहां पर आपको कुछ निर्देश दिखाई देते हैं यह निर्देश ग्राफिक के रूप में भी हो सकते हैं किसी बटन के रूप में भी हो सकते हैं या किसी स्विच के रूप में भी हो सकते हैं जब आप इन निर्देशों को माउस कीबोर्ड टच स्क्रीन या अपने हाथों का उपयोग करके मशीन को या कंप्यूटर को कमांड देते हैं तो आपके और मशीन के बीच में एक कम्युनिकेशन स्थापित होता है यानी अगर सीधे शब्दों में कहा जाए तो आपकी और मशीन की एक बातचीत होती है इस बातचीत को स्थापित करने में जो माध्यम होता है वही यूजर इंटरफेस कहलाता है यूज़र इंटरफ़ेस को ह्यूमन मशीन इंटरफ़ेस (HMI) भी कहा जाता है। 
वर्तमान समय में कंप्यूटर और मोबाइल फोन को चलाने के लिए जो यूजर इंटरफेस प्रदान किया जाता है उस में मुख्यत है आपका ऑपरेटिंग सिस्‍टम (Operating Systems) है जो आपको ग्राफिकल यूजर इंटरफेस प्रदान करता है जहां पर आपको चित्र और आइकॉन्स दिखाई देते हैं जिनके माध्यम से आप कीबोर्ड और माउस की सहायता से अपने कंप्यूटर में और टच स्क्रीन की सहायता से अपने मोबाइल फोन में कमांड दे पाते हैं
ऑपरेटिंग सिस्‍टम (Operating Systems) एक सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software) होता है यानी ऑपरेटिंग सिस्‍टम (Operating Systems) आपके कंप्यूटर की जितनी भी आंतरिक गतिविधियां होती हैं उन को कंट्रोल करता है और आपको यानी यूजर को एक ऐसा इंटरफेस प्रदान करता है जिससे वह बड़ी आसानी से कंप्यूटर को ऑपरेट कर सके ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर के रिसोर्सेज जैसे कंप्यूटर की मेमोरी, सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट, हार्ड डिस्क या के अन्य सॉफ्टवेयर को कंट्रोल करता है यह ऐसा पहला प्रोग्राम है जो कंप्यूटर के स्विच ऑन होने के बाद रूम से कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी में लोड होता है यह प्रक्रिया बूटिंग (Booting) कहलाती है

यूजर इंटरफेस के प्रकार (types of user interface in hindi)

जीयूआई (GUI)

जीयूआई (GUI) की फुलफार्म है ग्राफिकल यूज़र इंटरफेस (Graphical user interface) जैसा कि इसके नाम में ही प्रदर्शित होता है यह ऑपरेटिंग सिस्टम ग्राफिक्स पर आधारित होता है यानी आप माउस और कीबोर्ड के माध्यम से कंप्यूटर को इनपुट दे सकते हैं और वहां पर जो आपको इंटरफ़ेस दिया जाता है वह ग्राफिकल होता है या यहां पर सभी प्रकार के बटन होते हैं मेन्‍यू होते हैं जो पूरी तरीके से यह बहुत आसान इंटरफ़ेस होता है जिसको कोई भी यूजर ऑपरेट कर सकता है ग्राफिकल यूज़र इंटरफेस (Graphical user interface) के आने के बाद ऑपरेटिंग सिस्टम में तेजी से विकास हुआ है

वेब यूज़र इंटरफ़ेस

यह भी एक ग्राफिकल यूजर इंटरफेस है जिसमें वेब पेज को इस तरह से डिजाइन किया जाता है कि वह इंटरनेट के माध्यम से जब किसी यूज़र के पास पहुंचे तो उसका आउटपुट बहुत बेहतरीन दिखाई दे आपके वेब पेज का लेआउट या इंटरफ़ेस आपकी वेबसाइट के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है

टच स्क्रीन इंटरफेस

टच स्क्रीन इंटरफेस मोबाइल फोन टैबलेट और एटीएम मशीन में होते हैं जहां पर आप स्क्रीन को टच करके इनपुट देते हैं और मशीन द्वारा आपको एक निश्चित आउटपुट दिया जाता है

कमांड लाइन इंटरफेस

इसमें कंप्यूटर को कीबोर्ड के माध्यम से कमांड स्ट्रिंग टाइप करके इनपुट दिया जाता है और कंप्यूटर मॉनिटर पर आपको इसका आउटपुट दिखाई देता है

हार्डवेयर यूजर इंटरफ़ेस

आमतौर पर घर में इस्तेमाल होने वाले होम एप्लायंसेज में आप बटनो के माध्यम से टच स्क्रीन के माध्यम से स्विच के माध्यम से हार्डवेयर को जो भी कमांड देते हैं वह हार्डवेयर यूजर इंटरफेस के माध्यम से दी जाती है और यह आपके किसी भी मशीन चलाने को सरल बनाती है
Spread the love

Leave a Reply