Phone में SAR Value क्या होती है कैसे करें चैक

आप लोगों ने Mobile Radiation या SAR Value (What is SAR Value in Hindi) के बारे में जरूर सुना होगा, दोस्‍तों हर मोबाइल फोन में एक Antenna होता है जिसका काम आपके फोन के Signal को टावर तक भेजने का होता है और टावर से आपके फोन पर सिग्‍नलों को रिसीव करने का होता है जो सिग्‍नल हमें मोबाइल टावर से रिसीव होते हैं उन्‍हें Electro Magnetic Radio wave कहते हैं इस तरह की तरंगों को Radio Frequency भी कहा जाता है

 Mobile Radiation या SAR Value (What is SAR Value in Hindi)

यह तरंगें धीमे धीमे वातावरण में फैलती रहती है यह तरंगें एक प्रकार मानव निर्मित रेडिएशन पैदा करती है दूसरे शब्‍दों में इसको ही मोबाइल रेडिएशन कहा जाता है मोबाइल रेडिएशन को SAR वैल्‍यू के आधार पर टेस्‍ट किया जाता है अब आप सोच रहे होगे कि आखिर SAR वैल्‍यू होती क्‍या है और आप अपने मोबाइल फोन की SAR Value कैसे Check करें कौन सी SAR वैल्‍यू ज्‍यादा सुरक्षित होती है, आपके मोबाइल फोन के ऊपर SAR वैल्‍यू के लेवल क्‍या होने चाहिए और आप इसे कैसे निकाल सकते हैं ये सब मैं आपको आज बताने वाला हूं और साथ में ये भी बताउंगा कि आप मोबाइल रेडिएशन से कैसे बच सकते हैं

SAR Value का मतलब क्‍या होता है (What is SAR Value in Hindi)

जैसा कि मैंने आपको बताया है कि SAR वैल्‍यू से मोबाइल रेडिएशन का पता चलता है अब मैं आपको बताता हूं कि SAR का मतलब क्‍या होता है इसका पूरा नाम Specification Absorption Rate होता है, इसका मतलब जब आप मोबाइल फोन को इस्‍तेमाल करते हैं तो उससे निकलने वाला रेडिएशन आपके Tissue के माध्‍यम से आपके शरीर में समाता है तो आपके शरीर के जो Tissue होते हैं वो आखिर कितना रेडिएशन Absorb करते हैं, एक मात्रा से अधिक होने पर यह आपके शरीर और स्‍वास्‍थ्‍य को भारी नुकसान पहुॅचा सकता है अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये वैल्‍यू कितनी होनी चाहिए, Normally ये वैल्‍यू 1.6W/kg होनी चाहिए पर अगर SAR Value इससे ज्‍यादा होती है तो मोबाइल रेडिएशन नार्मेल से ज्‍यादा हो जाएगा और वो Human Body के लिए हानिकारक हो सकता है 

अगर ये वैल्‍यू 1.6W/kg से कम होती है तो वो शरीर के लिए हानिकारक नहीं होती है ये वैल्‍यू भारत सरकार के द्वारा निर्धारित की हुई है अगर आप भारत और अमेरिका को देखेंगे तो ये वैल्‍यू 1.6W/Kg होती है और अगर आप European देशों में जाएंगे तो वहां पर SAR Value 2.0W/Kg निर्धारित की गई है

How to Check SAR Value on Your Mobile Phone

जब भी आप कोई नया मोबाइल फोन खरीदते हैं तो आपको मोबाइल फोन के बॉक्‍स के ऊपर SAR वैल्‍यू लिखी होती है, भारत सरकार ने ये बिल्‍कुल Mandatory कर रखा है कि मार्केट में जब भी कोई नया फोन आएगा तो उसकी SAR वैल्‍यू कंपनी के द्वारा उसके बॉक्‍स के ऊपर लिखना जरूरी होती है तो जब भी आप किसी मोबाइल फोन को खरीदे तो SAR वैल्‍यू को देखकर खरीदे SAR वैल्‍यू जितनी ज्‍यादा कम होती है मोबाइल फोन आपके लिए उतना अच्‍छा होता है और SAR वैल्‍यू जितनी ज्‍यादा होती है मोबाइल फोन आपके लिए उतना ज्‍यादा हानिकारक हो सकता है वो आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है 

मान लीजिए कि मोबाइल खरीदते समय आपने SAR वैल्‍यू नहीं देखी और अब आपको उस मोबाइल का बॉक्‍स नहीं मिल रहा है तो अब आप क्‍या करें, आपको कुछ नहीं करना है आपको अपना मोबाइल फोन लेना है और उसमें डॉयल करें *#07# ये करने के बाद आपको तुरंत SAR वैल्‍यू पता चल जाएगी, आज जो मोबाइल फोन आ रहे हैं वो Head और Body दोनों की SAR Value अलग अलग देते हैं इसमें Head की SAR Value 1.6 होती है और Body की इससे कम होती है क्‍योंकि आपको फोन को कान में लगाना होता है और वो आपकी Body के पास होता है इससे एक बात समझ में आती है कि ये दोनों ही वैल्‍यू 1.6 से कम होनी चाहिए

बहुत पुराने मोबाइल फोन में *#07# भी नहीं चलता है तो आप मोबाइल के नाम और मॉडल नंबर से गूगल सर्च में जाकर उसकी SAR वैल्‍यू को चेक कर सकते हैं, अगर आप ये भी नहीं करना चाहते हैं तो आप अपने फोन की ऑफिशयल वेबसाइट पर जाए और अपने फोन की फोन Brand को ढूंढे और Specification में जाकर आप SAR वैल्‍यू को चेक कर सकते हैं

अगर आपके मोबाइल फोन की SAR वैल्‍यू 1.6W/Kg से कम है तो भी आपको कुछ सावधानियां रखनी चाहिए जब भी आप किसी को फोन करें या फिर आप गानें सुनने के ज्‍यादा शोकिन है तो आप ज्‍यादा से ज्‍यादा Wired हैडफोन का इस्‍तेमाल करें क्‍योंकि अगर आप Bluetooth को इस्‍तेमाल करने की सोच रहे हैं तो न करें क्‍योंकि Bluetooth के भी रेडिएशन प्रभाव होते हैं  वो भी मोबाइल फोन जैसे ही होते हैं

Bluetooth की SAR Value कितनी होती है

वैसे तो Bluetooth तीन प्रकार के होते हैंं जिनकी Frequency और Power अलग अलग होती है इसके अलावा भी आपको इनकी SAR Value के बारे में भी पता होना चाहिए आज मार्केट में कई तरह के Bluetooth आ रहे हैं तो जब भी आप किसी Bluetooth को खरीदने जाए तो अच्‍छी क्‍वालिटी का ही खरीदें क्‍योंकि Bluetooth भी रेडिएशन को छोडते हैं और वो मनुष्‍यों के लिए हानिकारक हो सकती है, आमतौर पर Bluetooth की SAR Value 0.30 W/Kg से ज्‍यादा नहीं होनी चाहिए अगर किसी Bluetooth की SAR Value इससे ज्‍यादा है तो आप न खरीदें वो आपके लिए हानिकारक हो सकती है

ClassMaximum Permitted Power
(mW)
Range
(Approximately)
Class 1100 mW~ 100 meter
Class 22.5 mW~ 10 meter
Class 31 mW~ 1 meter

ऐसा आज तक नहीं पाया गया है कि अगर किसी की मोबाइल रेडिएशन 2 or 2.5 W/Kg तक हो गई है तो वो आपकी शरीर में कोई बहुत बडी समस्‍या कर सकती है, हां ये बात जरूर है कि मोबाइल फोन रेडिएशन को छोडते हैं और अगर आप इसका इस्‍तेमाल ज्‍यादा समय के लिए करते हैं तो आपके शरीर में इसके कुछ न कुछ Effect आने के Chances होते हैं

Effects of SAR Value on Body

वैसे मैं आपको पहले ही बता चुका हूं कि मोबाइल रेडिएशन आपके शरीर में कोई ज्‍यादा प्रभाव नहीं डालती है पर अगर आप मोबाइल फोन को बहुत ज्‍यादा इस्‍तेमाल करते हैं और अगर कहीं पर एक साथ अपने फोन पर बहुत से काम कर रहे हैं जैसे आप एक ही साथ फोन पर बात भी कर रहे हैं और इंटरनेट के माध्‍यम से किसी के चैटिंग भी कर रहे हैं तो आपको हैडफोन लगा लेना चाहिए इससे आपको एक बात का फायदा होता है कि फोन आपके सिर के पास नहीं रहता है इससे जो Brain Tumor या ब्रेन कैंसर जैसी समस्‍या होने के Chance बनते हैं उससे आप बच सकते हैं मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूं कि मोबाइल से निकलने वाली तरंगे जब बहुत ज्‍यादा बढ जाती है तो वो धीमे धीमे आपके शरीर में बहुत बडा प्रभाव डाल सकती है

Spread the love

Abhimanyu Bhardwaj

अभिमन्यु भारद्वाज अपने ब्लॉग और यूट्यूब चैनल My Big Guide के माध्यम से पिछले 10 वर्षों से भी ज्यादा समय से डिजिटल रूप से हिंदी भाषा में कंप्यूटर शिक्षा का प्रचार प्रसार कर रहे हैं अगर आप हमेशा कुछ नया सीखने के इच्छुक रहते हैं तो यह वेबसाइट आपके लिए वरदान सिद्ध हो सकती है हमसे जुड़ें और अपनी तकनीकी जिज्ञासा को शांत करें

Leave a Reply